Skip to main content

रोगों और (हानिकारक कीटों नाषक जीवों) का एकीकृत प्रबन्ध

 

रोगों और (हानिकारक कीटों नाषक जीवों) का एकीकृत प्रबन्ध

1. सामान्य सावधानियां

  •         विषिश्ट क्षेत्रों के लिए प्रतिरोधी और सु-अनुकूलित प्रजातियों का चुनाव कीजिए।
  •         स्वच्छ एवं रोग मुक्त बीजो का चुनाव कीजिए।
  •         समुचित सस्यीय क्रियाएं, जैसे अनुकूलतम बोआई/रोपाई समय एवं पोदा अवस्था रोपाई ज्यामिति, रोपाई की गहराई आदि।
  •         अच्छा जल प्रबंध, उदाहरणार्थ, कीटों एवं रोगो के आक्रमण के समय पर खेत से जल निकाल दीजिए।


 

0
Your rating: None

Please note that this is the opinion of the author and is Not Certified by ICAR or any of its authorised agents.