Skip to main content

gbpuat-uttaranchal(pantnagar)

एक कलिका रोपाई :गन्ना

एक कलिका रोपाई

  • इस में एक कलिकायुक्त सेट (बीजखण्ड) की सीधी रोपाई सम्मिलित होती है।
  • सेटो (बीज खण्डों) के बीच 30-40 से.मी. की दूरी पर खूड़ों में खेत में सीधे एक कलिकायुक्त सेटो की रोपाई की जाती है।

खाई या जवा विधि:गन्ना


खाई या जवा विधि:


पत्ती : धान


पत्ती :

कल्म के प्रत्येक गॉठ पर पत्ती निकलती है जिसके निम्नलिखित हिस्से होते हैं।

तने (डंठल) : धान


जड़े : धान


एस.टी.पी : गन्ना


बीच में स्थान छोड़कर रोपाई तकनीक (एस.टी.पी.)

दु्रत गुणन (वृध्दि) दर रखने के लिए भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान, लखनऊ पर ''बीच में स्थान छोड़कर रोपाई तकनीक'' नामक गन्ना रोपाई की नई पध्दति विकसित की गई थी।

उत्पादन प्रौद्योगिकी :


उत्पादन प्रौद्योगिकी

बोआई का समय:

तापमान - अच्छे अंकुरण के लिए 25 - 320 से.

Syndicate content