Skip to main content

Please note that this site in no longer active. You can browse through the contents.

Hindi

धान आकारिकी


धान आकारिकी

1-   जड़े : 

जैविक बासमती धान के लिए सस्य क्रियाओं का पैकेज

 

जैविक बासमती धान के लिए सस्य क्रियाओं का पैकेज


लीची सुरक्षा प्रौद्योगिकी

 

1-   सुरक्षा प्रौद्योगिकी :


लीची में फल तुड़ाई के बाद का प्रबन्धन :

 

1-   फल तुड़ाई के बाद का प्रबन्धन :

श्रेणीकरण - यह फल के आकार एवं रंग के अनुसार किया जाता है।

लीची का विपणन - लागत : लाभ अनुपात

 

विपणन :

(क) स्थानीय बाजार के लिए    -    पूर्ण परिपक्वन अवस्था आकर्षक लाल छिलका रंग

(ख) दूरस्थ बाजार के लिए -    रक्ताभ या गुलाबी रंग में बदलना प्रारंभ होते हुए

लीची का वानस्पतिक विवरण (प्ररोह तंत्र)

 

लीची का   वानस्पतिक विवरण (प्ररोह तंत्र) -

ऊँचाई          :    6-10 मीटर

चौडाई          :    6-8 मीटर

विपणन: लीची

 

विपणन - फल अत्यधिक विनाशशील होने के कारण लीची मुख्यत: ताजे रूप में स्थानीय या निकटवर्ती बाजार में बेची जाती है। फिर भी द्रुत एवं उन्नत परिवहन नेटवर्क की सहायता से इस समय इसका परिवहन दूरवर्ती बाजारों के लिए किया जा रहा है। दूरवर्ती बाजार के लिए परिवहन की शीत श्रृंखला प्रणाली का उपयोग किया जाता है। इस प्रणाली में परिवहन प्रयोजन के लिए प्रशीतित वाहनों का उपयोग किया जाता है।

लीची: उपज, भण्डारण, पैकिंग

 

 

उपज - पूर्ण विकसित लीची के वृक्ष पर औसतन 80-150 कि.ग्रा. फल/वृक्ष/ वर्ष लगता है जो उगाए गए कल्टीवार, जलवायु- दशाओं और फलोद्यान प्रबन्ध पर निर्भर होता है।

लीची के फलों की तुड़ाई

 

तुड़ाई :

परिपक्वता की अवस्था - फलों की परिपक्वता लाल रंग और फल आकार (न्यूनतम 25 मि.मी. व्यास) द्वारा सूचित होती है। रंग के अलावा फल की परिपक्वता उस समय सूचित होती है जब गुलिकाएं कुछ चपटी हो जाती हैं और छिलका चिकना हो जाता है।

Syndicate content