Skip to main content

Please note that this site in no longer active. You can browse through the contents.

Hindi

नर्सरी में पोशक प्रबन्ध: धान

 

नर्सरी में पोशक प्रबन्ध


 विभिन्न पोशक कर्मियों एवं पौधों की खराब वृध्दि के कारण जैविक पध्दति के अंतर्गत खराब नर्सरी प्रमुख समस्या होती है। पौधों की अनुकूलतम वृध्दि रखने के लिए निम्ननलिखित पोशक प्रबन्धन की प्रक्रियाओं का अनुसरण करना चाहिए।

धान में नर्सरी उगाने की विधियां

 

नर्सरी उगाने की विधियां


 

नर्सरी उगाने की तीन प्रमुख विधियां है:

1. षुश्क नर्सरी जहाँ षुश्क मृदा में सूखे बीजों की बोआई की जाती है। इस विधि का प्रयोग उन क्षेत्रों में किया जाता है जहाँ गीली नर्सरी में पोधों को उगाने के लिए पर्याप्त नहीं होता है।

धान की रोपाई

 

धान की बोआई

 

क. षुल्क या अर्ध - षुश्क उच्चभूमि खेती

(i) बीज विखेरकर बोआई

(ii) हल के पीछे या ड्रिल करके बीज बोआई विखेर कर बोआई करने के लिए बीज दर सामान्यत: अधिक ऊँची अर्थात् 80-120 कि0 ग्रा0 /हैक्टेयर रखी जाती हैं परन्तु सीड ड्रिल से पंक्ति बोआई के लिए 35-40 कि0 ग्रा0/हैक्टेयर की बीज दर अनुकूलतम है। उच्छी खड़ीफसल के लिए बीज गहराई समान्यत: 2-3 से0 मी0 रखनी चाहिए।

hi, friends i want reaearsch paper on Pongamia pinnata(Karanj)

hi, friend im doing M.Sc. in MBBT now i am doing reaearch on Pongamia pinnata so i want to research paper on it....pls send it to my account.

लवण और पंत बायो एजेन्ट - 3 से धान के बीजों का उपचार

 

लवण और पंत बायो एजेन्ट - 3 से धान के बीजों का उपचार


धान की सीधी बोआई तथा बीज उपचार

 

धान की सीधी बोआई


यद्यपि धान के खेत व्यवहार में समतल एंव बराबर दिखाई देता है तो भी जल का प्रयोग खेत में सर्वत्र एक समान नहीं होता है। इसलिए उन्नत जल एवं फसल प्रबन्धन के लिए लेसर भूमि समतलन की पूर्वावष्यकता होती है।

 

धान के बीजों का चयन

बीजों का चयन


धान के लिए उपयुक्त मृदाएं, धान परिस्थितिक तंत्र

 

धान के लिए उपयुक्त मृदाएं

          प्रमुख धान उत्पादक मृदाएं उप पर्वतीय मृदाएं, पहाड़ी मृदाएं, तराई मृदाएं, कैल्सियमी मृदाएं, लाल पीली दुमट, लाल बलुई, मिश्रित लाल एवं काली मृदाएं, डेल्टा नमी युक्त की जलोद मृदाएं, मध्यम काली मृदा, परित (सेलेक्टेड) मृदा, गहरी काली मृदा, लाल दुमट मृदा, तटीय जलोदक (कछारी) मृदा और उथली काली मृदाएं है।

धान का पौध और वृध्दि अवस्थाएं

 

धान का पौध और वृध्दि अवस्थाएं


Syndicate content